अगर पति को सजा सुनाई तो समाज हित में नहीं होगा : HC

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कहा कि पीड़िता व आरोपी साढ़े चार साल के बेटे सहित शादीशुदा खुशहाल जीवन जी रहे हो तो पति पर नाबालिग से दुराचार व अपहरण के आरोप केस चलाना उचित नहीं है. कोर्ट ने कहा कि यदि पति को सजा सुनाई गई तो समाज हित में नहीं होगा.

Generated by Feedzy